7 मार्च 2012

होली है


रिश्ते सब
रंगीन हो गए
दिल में ऐसा बिखरा रंग
नागिन धुन पर
बीन हो गए
रिश्ते सब रंगीन हो गए
उनके गालों पर
पीला रंग
सुर्ख होंठ और
चोली तंग
ताऊजी संगीन हो गए
रिश्ते सब रंगीन हो गए
छिप कर देखूं
ताकू झाँकू
नज़र बचाकर
सबको जांचू
आस पास के
मीठे रिश्ते
होली  में नमकीन हो गए
रिश्ते सब रंगीन हो गए
मन जब रंग बिरंगा होता
ज्येष्ठ, ससूर का
रिश्ता सोता
नजर बचा कर  सारे रिश्ते
देवर बने
हसीन हो गए
रिश्ते सब रंगीन हो गए

( होली की हुडदंगी और हार्दिक शुभकामनाएं )

 -कुश्वंश



  

28 टिप्‍पणियां:

  1. होली के रंगों में रंगी आपकी प्रस्तुति अच्छी लगी.

    होली के रंगारंग शुभोत्सव की हार्दिक शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाह !
    सारे स्वाद आ गए ।
    तन मन रंगीन हो गए ।
    होली की अनंत शुभकामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहूत हि सुंदर .सुंदर रचना..
    होली का पर्व आपके जीवन में अपार खुशिया लाये...

    उत्तर देंहटाएं
  4. चले चकल्लस चार-दिन, होली रंग-बहार |
    ढर्रा चर्चा का बदल, बदल गई सरकार ||

    शुक्रवारीय चर्चा मंच पर--
    आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति ||

    charchamanch.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  5. उत्कृष्ट प्रस्तुति |होली की हार्दिक शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  6. बहुत ही बढ़िया
    आपको महिला दिवस और होली की सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएँ।

    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  7. अच्छी रचना...कुछ अलग सी....

    शुभकामनाएँ होली की ....
    सादर.

    उत्तर देंहटाएं
  8. अच्छी रचना...
    होली की शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  9. होली की हार्दिक शुभकामनाएं!

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत सुन्दर रचना... होली की शुभकामनाएं...

    उत्तर देंहटाएं
  11. वाह बहुत सही सच को बहुत ही सुंदर शब्दों में पिरो कर लिख दिया आपने बहुत ही सुंदर एवं सार्थक अभिव्यक्ति होली की मगलकामनायें...

    उत्तर देंहटाएं
  12. बहुत ही खूब सूरत कविता हैं ..रिश्तो में मधुरता मीठे और नमकीन दोनों की बराबरी से ही होती हैं न कम न ज्यादा !
    होली की शुभकामनाए ......

    उत्तर देंहटाएं
  13. .

    मजा आ गया … वाह !
    सुंदर रचना !


    होली पर भी मेरी ओर से भी मंगलकामनाएं स्वीकार करें

    **♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥
    ~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~
    ****************************************************
    ♥ होली ऐसी खेलिए, प्रेम पाए विस्तार ! ♥
    ♥ मरुथल मन में बह उठे… मृदु शीतल जल-धार !! ♥



    आपको सपरिवार
    होली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !
    - राजेन्द्र स्वर्णकार
    ****************************************************
    ~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~
    **♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥

    उत्तर देंहटाएं
  14. ज्येष्ठ, ससूर का
    रिश्ता सोता
    नजर बचा कर सारे रिश्ते
    देवर बने
    हसीन हो गए
    रिश्ते सब रंगीन हो गए
    बहुत खूब बेहतरीन व्यंग्य विनोद सरस रंग छलका होली का .

    उत्तर देंहटाएं
  15. आस पास के
    मीठे रिश्ते
    होली में नमकीन हो गए
    वाह! बहुत अच्छी रचना...
    होली की सादर बधाईयां...

    उत्तर देंहटाएं
  16. होली के पर्व पे लिखी अच्छी रचना ...

    उत्तर देंहटाएं
  17. नजर बचा कर सारे रिश्ते
    देवर बने
    हसीन हो गए
    रिश्ते सब रंगीन हो गए..

    इस रंगीन रचना के लिए मेरी हार्दिक शुभकामनायें....

    उत्तर देंहटाएं
  18. बहुत बेहतरीन....
    मेरे ब्लॉग पर आपका हार्दिक स्वागत है।

    उत्तर देंहटाएं
  19. होली का यह रंगीन चित्र बेहद पसंद आया।

    उत्तर देंहटाएं
  20. बहुत सुंदर होली रंगीन रचना, बेहतरीन प्रस्तुति.......

    MY RESENT POST ...काव्यान्जलि ...:बसंती रंग छा गया,...

    उत्तर देंहटाएं
  21. वाह वाह वाह...क्या इद्रधनुषी गीत रचा आपने...

    प्रावाह्मयी, मुग्धकारी , बहुत बहुत बहुत ही सुन्दर गीत..

    उत्तर देंहटाएं
  22. बहुत खूब, होली में सारे रिश्ते रंगीन हो गए. होली की रंगीन फिजा रिश्ते को मीठे नमकीन कर गए...होली की बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  23. बहुत सुन्दर रचना .....कुछ हट के...

    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं

आपके आने का धन्यवाद.आपके बेबाक उदगार कलम को शक्ति प्रदान करेंगे.
-कुश्वंश

हिंदी में